mor36garh-logo

छत्तीसगढ़ में धर्मांतरण को लेकर बनेगा कानून, इसी सत्र में लाया जाएगा विधेयक

रायपुर।   छत्तीसगढ़ में अवैध धर्मांतरण को रोकने के लिए कानून बनाया जाएगा. इसकी घोषणा सदन में शिक्षा और धार्मिक न्यास मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने की है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की डेमोग्राफी को बर्बाद करने के लिए बहुत सारी शक्तियां काम कर रही है. उसे रोकने के लिए यह कानून लाया जा रहा है. लीगल धर्मांतरण के अतिरिक्त अवैध तरीके से धर्मांतरण को रोकने के लिए यह कानून लाया जा रहा है. इसके साथ ही उन्होंने अपने विभागों के अनुदान मांगों पर चर्चा का जवाब दिया.

मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने अपने विभागों के अनुदान मांगों पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि हम पांच शक्ति पीठ की परियोजना लाने वाले हैं. हम फिर से राजिम कुंभ करवाने वाले हैं. देश में पहली बार हमने राजिम कुंभ कल्प की शुरुआत की. लेकिन कांग्रेस सरकार ने आते ही इसे बंद करवा दिया. स्कूल के शिक्षकों के ट्रांसफर में पैसे कमाए ऐसी पहचान आपने बनाई. हम छत्तीसगढ़ को देश और दुनिया एक पहचान देना चाहते है. पांच साल में कितने साधु संत आए? कांग्रेस ने कुंभ की महिमा को समाप्त कर दिया. हम कल्चर कनेक्ट योजना लायेंगे. अयोध्या,तिरुपति और पूरी में छत्तीसगढ़ धाम बनाएंगे. मानसरोवर जाने वाले यात्रियों को एक लाख रूपय देंगे. सिंधु दर्शन के लिए 25 हजार देंगे. बस्तर दशहरा मांझी को 2500 रूपय ,चालकी को दो हजार रुपए देने की घोषणा की. छत्तीसगढ़ी की संस्कृति सिरपुर,रामगढ़,चंपारण की संस्कृति है. कांग्रेस सरकार छत्तीसगढ़ की संस्कृति को भौरा,गिल्ली डंडा तक,सोंटा तक सीमित रखा. प्रधानमंत्री लोककला महोत्सव का आयोजन होगा. सभी पर्यटन स्थलों में गढ़ कलेवा की स्थापना होगी.

प्रदेश में 33 हजार शिक्षकों की होगी भर्ती

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, छत्तीसगढ़ में भारत भवन बनाएंगे.स्कूल शिक्षा को लेकर मंत्री बृजमोहन अग्रवाल की बड़ी घोषणा. प्रदेश के 25 हजार स्कूलों में अंग्रेजी में शुरू होगी पढ़ाई. पहली कक्षा से पांचवीं तक अंग्रेजी में होगी पढ़ाई. आत्मानंद स्कूल योजना के नाम पर कांग्रेस ने करप्शन किया. 251 पुराने भवनों में 800 करोड़ खर्च कर दिए. कांग्रेस ने विद्या को बाजार बनाने की कोशिश की. छत्तीसगढ़ के 25 हजार स्कूलों को इंग्लिश मीडियम बनाएंगे. 1 साल में 33 हजार शिक्षकों की पदों पर भर्ती करेंगे.

स्कूल शिक्षा मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने सदन में कहा, आत्मानंद स्कूल को भ्रष्टाचार का गढ़ बनाया. आत्मा नंद स्कूलों को पैसा खाने के लिए बनाया. 800 करोड़ रुपए 251 स्कूलों की मरम्मत में खर्च कर दिए. आत्मानंद स्कूल और शिक्षकों को कलेक्टर के अंदर ला दिया, शिक्षकों के भविष्य से भी खेला. 5 साल में 25 हजार स्कूलों को इंग्लिश मीडियम बनाएंगे. 15 साल के भाजपा कार्यकाल में 15 हजार से स्कूल 30 हजार हो गए. 50-50 हाई स्कूल और हायर स्कूल खोले जाएंगे. 1 साल में 33 हजार शिक्षकों की पदों पर भर्ती करेंगे.

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हमने बच्चों को संस्कारों की शिक्षा नहीं दी, भारतीय संस्कारों की शिक्षा नहीं दी इसलिए बच्चे भटक रहे हैं. शिक्षा में हम उच्च स्तरीय अनुसंधान का इस्तेमाल करेंगे जिससे बच्चे आगे बढ़ सके. जितने स्कूलों का उन्नयन हम करने जा रहे हैं. कांग्रेस ने 50 सालों में भी इतना नहीं किया. 57 हाई स्कूल, 39 प्राइमरी स्कूल भवन का निर्माण किया जाएगा. कांग्रेस ने पांच साल में केवल 13 हजार पदों की भर्ती की है हम एक साल में 33 हजार शिक्षकों की भर्ती करेंगे.

शिक्षकों की भर्ती के नाम पर मजाक किया गया. आरक्षण के नाम पर राज्य के नौजवानों के साथ विश्वासघात कांग्रेस ने किया. कांग्रेस को मालूम था कि 57 फीसदी आरक्षण नहीं हो सकता. पांच साल तक कांग्रेस ने शिक्षकों का प्रमोशन नहीं किया. हम एक साल के भीतर प्रमोशन के रुके काम पूरे करेंगे. शिक्षकों की वेतन विसंगति दूर की जायेगी. सरकार एआई तकनीक के ज़रिये शिक्षा की गुणवत्ता को दुरुस्त करेगी. हम एक ऐसा सिस्टम बनायेंगे जो रियल टाइम मॉनिटरिंग करेगी. विद्या ऑपरेटिंग सिस्टम बनाया जाएगा. सूरजपुर और गरियाबंद में डाइट की स्थापना की जायेगी. टाइपिंग परीक्षा पिछले तीन सालों से नहीं हुई थी. इस परीक्षा के अभाव में कई पदों पर भर्ती नहीं हो पा रही थी. अब हर साल टाइपिंग परीक्षा होगी. स्कूलों में हर शनिवार एक घंटा खेल का होगा. छत्तीसगढ़ के बच्चे भी अग्निवीर बनेंगे. सरकार की कोशिश होगी कि अधिक से अधिक बच्चे एनसीसी में जाये, स्काउट गाइड में जाये, एनएसएस में जाये, रेडक्रास जॉइन करें. ये हमारे बच्चों के भविष्य का नींव होगा.

स्कूलों में आधे घंटे का योग पीरियड और अध्यात्म की होगी पढ़ाई

मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, हमारे राज्य में बड़ी इंडस्ट्रीज़ है. उनसे हम सहयोग मागेंगे कि अपने क्षेत्रों के स्कूलों को गोद लें. सीएसआर फंड से हम राज्य के स्कूलों को मजबूत कर सकेंगे. स्कूलों में बच्चों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति का नाम गुरु घसीदास के नाम पर करने की घोषणा करते हैं. अनुसूचित जनजाति वर्ग के बच्चों को दी जाने वाली छात्रवृत्ति का नाम गुंडाधुर करने की घोषणा करते हैं. सभी छात्राओं को साइकिल वितरित किया जाएगा. मिडिल और प्राइमरी स्कूल के बच्चों को भी जूते मोजे, बेल्ट और बैग का वितरण किया जायेगा. ड्राप आउट रेट कम करने के लिए हमारी कोशिश होगी कि भारत सरकार के मानक स्तर तक हम पहुंच जायें. हर स्कूल में पहले आधे घंटे का पीरियड योग और अध्यात्म की शिक्षा का होगा.

Mor36garh

Mor36garh

Related News