mor36garh-logo

केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को कमार परिवारों ने खिलाया तिल का लड्डू

महासमुंद।  भारत सरकार के केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत आज महासमुंद विकासखण्ड के ग्राम झालखम्हरिया में विशेष पिछड़ी जनजाति कमार बस्ती पहुंचे। कमारों के बीच में पहुंचकर उन्होंने केन्द्रीय योजनाओं की जमीनी हकीकत का जायजा लिया। उनके साथ प्रदेश के उपमुख्यमंत्री अरूण साव मौजूद थे। प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी लेने केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत कमारों के बीच जाकर उनके जीवन शैली, आजीविका सहित योजनाओं की जानकारी ली। इस बीच कमार परिवार की महिला सदस्यों ने फूल छिड़ककर उनका स्वागत किया।

केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राही रामसिंग कमार से चर्चा करते हुए उनके रहन-सहन व कामकाज के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने बताया कि उन्हें वर्ष 2016-17 में ही प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिल गया था। अब अपने पक्के आवास में परिवार सहित खुशहाल जिंदगी जी रहे हैं। उन्होंने बताया कि वे बांस की टोकरी, सुपा बनाने का काम करते हैं। चर्चा के दौरान दीवार में टंगे तीर कमान के बारे में जब केन्द्रीय मंत्री के पूछने पर रामसिंग ने बताया कि पहले वे इससे शिकार करते थे आज भी शादी के पूर्व इनकी पूजा की जाती है। उनकी मां फुलबाई कमार से श्री शेखावत ने आत्मीय चर्चा की। फुलबाई ने कहा कि पहले पास में ही स्थित तालाब का पानी पीने मजबूर रहते थे। लेकिन अब हमारे घर में नल से पानी आता है। फुलबाई के आग्रह पर श्री शेखावत ने घर में लगे नल जल कनेक्शन का अवलोकन करते हुए नल चालू कर पानी पिया।

उनके परिवार ने प्रधानमंत्री आवास, नल जल और उज्ज्वला गैस कनेक्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद भी दिया। इस दौरान परिवार के सदस्यों ने श्री शेखावत को तिल की लड्डू, अनरसा और बाड़ी के पपीता खिलाया। तत्पश्चात उन्होंने उज्ज्वला गैस योजना के हितग्राही विमला बाई कमार से चर्चा की। विमला बाई ने बताया कि पहले वे चूल्हा जलाने के लिए लकड़ी लाना पड़ता था। लेकिन अब गैस मिलने से गैस चूल्हा में खाना बनाना प्रारम्भ किए है। अब धुंआ सहने की आवश्कता नहीं और न ही जंगल से लकड़ी काटने की जरूरत है।
तत्पश्चात मंचीय कार्यक्रम में उन्होंने विमला बाई कमार, पुन्नी बाई, सुनील कमार, राकेश और लोकेश्वरी से योजनाओं के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि मोदी जी की गारंटी को आप तक पहुंचाने इतनी दूर से पहुंचे हैं। आप सभी उनका अवश्य लाभ लेवें। ग्राम झालखम्हरिया में उन्होंने जलवाहिनी टीम से भी मुलाकात की और पानी टेस्टिंग की जानकारी भी ली।
उल्लेखनीय है कि ग्राम झालखम्हरिया के कमार डेरा के कुल 16 परिवारों के 13 घरों में जल जीवन मिशन के तहत स्वच्छ पेयजल प्राप्त हो रहा है। इसी तरह गांव के पूरे 244 घरों में घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से जल प्रदाय किया जा रहा है। यहां प्रधानमंत्री जीवन ज्योति एवं सुरक्षा बीमा योजना के तहत शत प्रतिशत परिवारों को लाभ मिल रहा है। सभी परिवारों में मनरेगा के तहत जॉब कार्ड और प्राथमिकता वाले राशन कार्ड मिला है।
Mor36garh

Mor36garh

Related News